top of page

Scrap trader used chip to under weigh – caught

The officials of IL&FS Engineering company busted a major rail project scrap underselling racket run by using an electronic chip installed in the truck scale. The person accused was operating the chip with a remote control to show less weight than the actual scrap being taken out of the company. The FIR was lodged against three people, Ikrarmulla, Shailendra Lodhi and Veer Prakash. 

The racket was detected when Naik, the manager and the mechanic engineer noticed a truck full of scrap showing a weight of only 8 tonnes. According to the FIR, Ikrarmulla was given the contract for lifting up the scrap in Dec 2017. The two people arrested in the case confessed that the chip was given to them by Ikrarmulla. 

The police have seized the chip and have sent it for forensic examination to know how it worked. Delhi police have been informed to apprehend Ikrarmulla

IL&FS इंजीनियरिंग कंपनी के अधिकारियों ने ट्रक स्केल में लगे इलेक्ट्रॉनिक चिप का इस्तेमाल हेतु चलाए जा रहे रैकेट को पकड़ा।  वास्तविक वसन  से कम वजन दिखाने के लिए रिमोट कंट्रोल से चिप का संचालन किया जा रहा था। पुलिस  ने तीन लोगों इकरारमुल्ला, शैलेंद्र लोधी और वीर प्रकाश के खिलाफ मामला दर्ज किया।

मामले का पता तब चला जब नाइक, मैनेजर और मैकेनिक इंजीनियर ने ध्यान दिया कि कबाड़ से  भरे वाहन का वज़न सिर्फ 8 टन दिख रहा था । प्राथमिकी के अनुसार, इकरारमुल्ला को दिसंबर 2017 में कबाड़ उठाने का ठेका दिया गया था। मामले में गिरफ्तार दो लोगों ने कबूल किया कि चिप उन्हें इकरारमुल्ला ने दी थी।

पुलिस ने चिप को जब्त कर लिया है और यह जानने के लिए फोरेंसिक जांच के लिए भेज दिया है कि यह कैसे काम करता है। दिल्ली पुलिस को इकरारमुल्ला को पकड़ने की सूचना दे दी गई है

2 views0 comments

Comments


bottom of page